इन दस जगहों पर जा सकते हैं बिहार में घूमने, और जान सकते हैं अपना इतिहास।

 Mahabodhi Temple

इस प्राचीन मंदिर को गौतम बुद्ध के बोध तत्व को अनुसरण करते हुए बनाया गया है। यह UNESCO विश्व धरोहर स्थल है और बौद्ध धर्म के महत्वपूर्ण श्रीने में से एक है।

नालंदा विश्वविद्यालय एक प्राचीन शिक्षा केंद्र था जो बौद्ध धरोहर का हिस्सा था। इसकी स्थापना 5वीं सदी में हुई थी और यह दुनिया के सबसे प्रसिद्ध विश्वविद्यालयों में से एक था।

Nalanda University

Patna Sahib

गुरु गोबिंद सिंह, दसवे गुरु श्री गुरुद्वारा पाटना साहिब में स्थित है। यह एक पवित्र स्थान है जो सिखों के लिए महत्वपूर्ण है और हर साल बेसाखी पर्व पर यहाँ भव्य आयोजन होता है।

Tomb of Sher Shah Suri

शेरशाह सूर के मकबरे के लिए प्रसिद्ध है। यह एक इमारती ज्वेल है जो मुघल शैली में बनी है और इसे विश्व धरोहर स्थल के रूप में मान्यता प्राप्त है।

Rajgir

राजगीर एक प्राचीन नगर है जो बौद्ध और जैन धरोहर से भरा हुआ है। स्वर्गद्वारी पहाड़ी, नालंदा विश्वविद्यालय, और वीरायतन स्थल इसके प्रमुख आकर्षण हैं।

Mundeshwari Temple

मुंडेश्वर मंदिर बिहार का सबसे पुराना हिन्दू मंदिर माना जाता है और यह वीरभद्र देवी को समर्पित है। इसकी स्थापना 4वीं सदी में हुई थी।